रामलला जमनोत्सव ( प्रसंग प्रकार ) : रचना सूची
Avatar
भजन अज्ञात 05/04/2024

Avatar

Avatar

रघुवर की जन्म बधाई अवधराय नौमी सुहाई।
चेत मास नौमी तिथि शित पख, 
ऋतु बसंत सुखदाई.... अवधराम।
फूले नही समात मगन मनए
अवध के लोग लुगाई.... अवधराम।
महल-महल में चहल-पहल है,
घर-घर बजत बधाई.... अवधराम।
घर-घर बंदनवार पताका,र्
सुन्दर चौक पुराई.... अवधराम।
घर-घर सोहर गीत मनोहर,
अलिगन मंगल गाई .... अवधराम।
घर-घर राम चरित की चर्चा,
बरबस लेत लुभाई.... अवधराम।
कहॅंू कीर्तन कहॅंू लीला झांकी,
वेद पढत मुनि राई.... अवधराम।
श्रवनन में सियाराम राम धुनि,
चहुॅं दिसि पढत सुनाई.... अवधराम।
जै-जैकार मची दस दिसि में,
गगन सुमन घडी आई.... अवधराम।
राम लक्ष्मण भरत शत्रुघन,
चिर जीवें चारों भाई.... अवधराम।
कनक भवन सियाराम दरश करी,
नैनन की सफलाई.... अवधराम।
करि सरयु असनान रसिकजन,
तम नम लेत जुराई.... अवधराम।
नारायण सिय अनुज नेह निधि,
नेह न्यौछावर पाई .... अवधराम।

पद अज्ञात 08/11/2023

Avatar

Avatar

Avatar

Avatar

Avatar

Avatar

Avatar
भजन अज्ञात 05/11/2023